National Consumer day Quotes – राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस की जानकारी

National Consumer day 2019: Rashtriya Upbhokta Diwas की जानकारी यहाँ आपको दी गयी है. हम सब Consumer है तो हमें समझना होगा की राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस कब, क्यों, और कैसे मनाया जाता है? National Consumer day का महत्व क्या है ये जानकारी यहाँ दी गयी है. साथ में राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस का महत्व, निबंध, नारे, Slogans, video Status, शायरी भी दी गयी है. जिसे आप Online शेयर करके इस दिन का महत्व सभी को बता सकते है. आपको National Consumer day Quotes in Hindi Message यहाँ से पढ़ने मिलेंगे.

आज हम बात कर रहे हैं भारत में मनाए जाने वाले राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस की। सबसे पहले तो आपको पता होना चाहिए कि आखिर में उपभोक्ता कौन है? उपभोक्ता किसे कहा जाता है? उपभोक्ता यानी की कंजूमर ( Consumer). मैं और आप भी उपभोक्ता हैं। सीधे-सीधे शब्दों में कहा जाए तो उपभोक्ता यानी कि ग्राहक, किसी भी चीज को खरीदने वाला व्यक्ति। हम नमक, आटा, गेहूं, चीनी जैसी चीजें खरीदते हैं. इसके अलावा मिक्चर. साइकिल. कार. कंप्यूटर. लैपटॉप जैसी चीजें खरीदते हैं. तो हम उपभोक्ता हुए।

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस की जानकारी

इस उपभोक्ता के अपने अधिकारों, अपनी जिम्मेदारियों के प्रति जागरूक करने का दिन जिसे हम राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस ( National Consumer day ) के रूप में मनाते हैं. आज हम आपको इसके बारे में विस्तार से सभी जानकारी हिंदी में बताएंगे।

“ग्राहक हमारे परिसर में आने वाला सबसे महत्‍वपूर्ण अतिथि है। वह हम पर निर्भर नहीं है। हम उस पर निर्भर हैं। वह हमारे कार्य में बाधा नहीं है। वह इसका प्रयोजन है। वह हमारे व्‍यापार के लिए एक बाहरी व्‍यक्ति नहीं है। वह इसका हिस्‍सा है। हम उसे सेवा देकर उसे कोई लाभ नहीं दे रहे हैं। वह हमें ऐसा करने का अवसर देकर हमें लाभ दे रहा है।” – महात्मा गाँधी
Click to Share share
Quotes Of National Consumer day in hindi Information

भारत में राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस कब मनाया जाता है

वैसे तो उपभोक्ता के अधिकारों और जिम्मेदारियों के बारे में जागरूक करने के लिए पूरे विश्व में कई विशेष दिन का आयोजन किया जाता है. कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है. लेकिन भारत में राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस 24 दिसंबर के दिन मनाया जाता है. इस तिथि को यह दिन सिर्फ भारत में मनाया जाता है।

National Consumer day speech in hindi

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस 24 दिसंबर को ही क्यों मनाया जाता है

आपके लिए यह जानना भी बड़ा दिलचस्प है की भारत में राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस 24 दिसंबर को मनाने के पीछे कौन सी वजह है। यह दिन और इसकी तिथि 24 दिसंबर भारत सरकार ने घोषित की है. क्योंकि भारत के राष्ट्रपति ने उसी दिन ऐतिहासिक उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 1986 के अधिनियम को स्वीकारा था. मतलब की उसी दिन से उपभोक्ताओं के लिए विशेष संरक्षण प्रदान करने वाला अधिनियम भारत के उपभोक्ताओं के लिए लागू हुआ.

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस की सुरुआत कब हुयी?

अगर बात करें भारत में उपभोक्ता दिवस की शुरुआत कब हुई तो, वैसे भारत सरकार ने 24 दिसंबर की तिथि को राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस के रूप में घोषित किया है. लेकिन इसकी शुरुआत भारत में उपभोक्ता दिवस पहली बार वर्ष 2000 में मनाया गया। और इसके बाद प्रत्येक वर्ष यह दिन मनाया जाता है।

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस का महत्व निबंध

हम कभी नहीं चाहते कि हम जो भी चीज बाजार से खरीदें या कहीं और से खरीदें इसमें हमें धोखा मिले. फिर भी आजकल कई ऐसे किस्से घटित होते हैं जिसमें कंजूमर यानी कि उपभोक्ता को धोखा दिया होता है. इसकी वजह यह होती है कि कई बार उपभोक्ता को विक्रेता के द्वारा अंधेरे में रखा गया होता है या फिर ऐसा भी होता है कि उपभोक्ता की जागरूकता के बिना वह कभी-कभी ऐसे धोखे में आ जाता है. और अपना ही नुकसान कर देता है.

यह दिवस उपभोक्ता आंदोलन को अवसर प्रदान करता है और इसके महत्व को उजागर करता है इसके साथ ही हर उपभोक्ता को अपने अधिकारों और जिम्मेदारियों के प्रति जागरूक करने की प्रेरणा देता है।

हमारे उपभोक्ता किसी भी तरह से अपनी सेवाए और वस्तुए की खरीदारी में कही धोखा ना खाए इसलिए इसे शिक्षित करना, Consumer के अधिकारों से इसे अवगत करना इस दिन का मकसद है. अधिनियम में उपभोक्ता के लिए कैसे कैसे प्रावधान रखे गए है. किन परिस्थितिओं में कहाँ से मदद मिल सकती है, एक ग्राहक के रूप में उपभोक्ता के उत्तरदायित्व से परिचित करना National Consumer day का कार्य है.

आज एक ग्राहक ज्ञानी उपभोक्ता को समझना होगा कि विक्रेता के द्वारा इसको किस तरह ठगा जाता है। आज उपभोक्ता के सामने कई तरह की विडंबना है उपभोक्ता जमाखोरी कालाबाजारी मिलावट अधिक दाम कम नापतोल जैसे कई मुश्किलों से गिरा हुआ उसे कई बार कई विक्रेताओं के द्वारा ठगा जाता है. इसलिए इसका सिर्फ एक ही उपाय है उपभोक्ताओं को अपने अधिकारों के बारे में जागृत करना और संकट से बचाना।

आजकल ऑनलाइन शॉपिंग का एक नया दौर दिखाई दे रहा है और इसमें भी उपभोक्ता को कई बार परेशान होना पड़ता है वैसे तो इंडिया में डिजिटल नॉलेज की कमी है और ऑनलाइन शॉपिंग करना इसके सब तरीकों के बारे में भी पता नहीं होता है तो कई बार भ्रामक विज्ञापन डिजिटल लेनदेन जैसी समस्याओं से जूझना पड़ता है

ऐसे कई मुश्किलों से उपभोक्ता को बचाने के लिए उसके हितों की रक्षा करने के लिए इसे जागृत करना और नए अधिकार नियमों से इस के हितों की रक्षा करना जरूरी बन जाता है इसलिए यह विधेयक के लिए मनाया जाने वाला दिन राष्ट्रीय उपभोक्ता दिन एक तरह से उपभोक्ता के अधिकारों की रक्षा के साथ उसे जागृत करने का सबसे बड़ा कार्य करता है

National Consumer day in india

इसलिए राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस का महत्व बढ़ जाता है. इस दिन लोगों को उपभोक्ता आंदोलन के महत्व को समझाया जाता है. उपभोक्ताओं को शोषण से बंद बचाने के लिए ही 24 नवंबर 1986 को उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम लागू किया गया था. इस अधिनियम में कुछ जरूरी सुधार करके परिपूर्ण पूर्ण बनाने के लिए दिसंबर 2002 में एक संशोधन इसमें लाया गया था और 15 मार्च 2003 से इसे लागू किया गया.

National Consumer day Quotes in Hindi Status

ये दिन इसी लिये मनाया जाता है ताकि उपभोक्ताओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया जा सके और इसके साथ ही अगर वो कालाबाजारी, घटतौली आदि का शिकार होते हैं तो वो इसकी शिकायत कर सकें।
जागो ग्राहक जागो।
Click to Share share

National Consumer day Quotes

Customers don’t expect you to be perfect but they expect you to fix things when they go wrong – Donald Porter.
Click to Share share

Customers through their devices are leaving vast footprints of customer data for marketers to leverage – Srividya Sridharan.

Your most unhappy customers are your greatest source of learning – Bill Gates
Click to Share share

When the government violates the people’s rights, insurrection is, for the people and for each portion of the people, the most sacred of the rights and the most indispensible of duties.

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस पर शायरी

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस पर आईये, सतर्क होकर हम अपने अधिकारों की रक्षा करे तथा एक जागरुक समाज का निर्माण करे.
Click to Share share

पैसे की कीमत तो कोई ऐसे बच्चे से पूछे
जिसको खिलौनों से भी प्यारा अपना गुल्लक होता है
सच पूछो तो यह सारी दुनिया है बाजार सरीखी ही
कोई होता है विक्रेता कोई ग्राहक होता है

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ

राष्ट्र की प्रगति में उपभोक्ता एक महत्वपूर्ण कड़ी हैं। अपने अधिकारों और दायित्वों के प्रति जागरूक होकर ही हम एक उत्कृष्ट राष्ट्र का निर्माण कर सकते हैं। जागरूक बनिए, जिम्मेदार बनिए।

आइए, हम सब मिलकर उपभोक्ता के रूप में अपने अधिकारों एवं जिम्मेदारियों के प्रति जागरूक बनने का संकल्प लें।
– राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस की बधाई
Click to Share share

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस मनाने का उद्देश्य उपभोक्ताओं के हितों की सुरक्षा सुनिश्चित करना एवं उनकी शिकायतों का उचित समाधान करना है | हमें भी एक सजग ग्राहक की भूमिका निभाते हुए इस विषय के प्रति जागरूकता फ़ैलाने में अपना योगदान देना चाहिए |

राष्ट्रीयउपभोक्तादिवस पर आइये मिलकर मिलावट व कालाबाजारी को पूर्ण प्रतिबंधित करने में मदद करें, जिससे हर उपभोक्ता को मनचाही वस्तु उचित गुणवत्ता और निर्धारित मूल्य के साथ उपलब्ध हो सके …
Click to Share share

हर उपभोक्ता का यह पूर्ण अधिकार है कि वह अपनी आवश्यकता की वस्तु उचित मूल्य व उच्च गुणवत्ता के साथ प्राप्त कर सके, आइए जागरूक बनें। #राष्ट्रीय_उपभोक्ता_दिवस की शुभकामनाएं…

नाप हो सही,कम नही माप हो सही,कम नही माल हो सही,मिलावट नही
खाद्य पदार्थ वही,जो एक्सपायर नही दाम हो सही,MRP से ज्यादा नही
रखो इन सब बातों का ध्यान जागरुक उपभोक्ता की यही पहचान !
– राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस की बधाई!
Click to Share share

National consumer day slogan

  • सजग रहे, जागरूक रहे
  • जागो ग्राहक जागो
  • जागरुक उपभोक्ता बनिए अपने अधिकार जानिये
  • राष्ट्र की प्रगति में उपभोक्ता एक महत्वपूर्ण कड़ी हैं।
  • जागरूक बनिए, जिम्मेदार बनिए।
  • अधिक से अधिक भारतीय वस्तुओं का उपयोग करेंगे।
  • नाप हो सही,कम नही

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस पर नारे

शुद्ध सुरक्षित और असर दायक
उपभोक्ता संरक्षण कानून है लाभदायक

हम उपभोक्ता की जागरूकता
उपभोक्ता संरक्षण की सार्थकता

देश का हर उपभोक्ता हो जागरूक|
उपभोक्ता संरक्षण कानून है इसमें सहायक||

उपभोक्ता कानून का इरादा
ग्राहक की सुरक्षा का वादा ||

उपभोक्ता कानून जानिए|
आप अपने अधिकार पहचानिये||

उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम|
ग्राहकों के हितो का रक्षक अधिनियम AA

न कोई खर्च न पर्चा |
सब दूर है उपभोक्ता अदालत की चर्चा

जब गरंटी बारँटी से निर्माता जाये मुकर|
आप तुरंत उपभोक्ता की अदालत की और करे डगर

गरंटी वारंटी से रहे ख़बरदार
उपभोक्ता अदालते दिलाएगी आपके अधिकार||

जागरूक उपभोक्ता का कर्त्तव्य
इससे आप महसूस करेंगे कम्फर्ट

रहे अपने अधिकारों के प्रति सर्तक
उपभोक्ता को रहना होगा अलर्ट

उपभोक्ता आदलते है आपकी रक्षक
सेवा में किसी भी खामी के लिए दीजिये दस्तक||

उपभोक्ता अदालतों की प्रक्रिया है सस्ती व सरल
जागो ग्राहक जागो यह होगा आपकी समस्या का तुरंत हल

सेवा की खामी से आप न हो निराश |
उपभोक्ता अदालते है आपके लिए खास

न खर्च न वकील न फीस की जरुरत A
आप साधारण आवेदन से करिये उपभोक्ता अदालत में शिकायत ||

National Consumer day Video Status

उपभोक्ताओं के अधिकार

  • जीवन एवं संपत्ति के लिए हानिकारक सामान और सेवाओं की बिक्री के खिला़फ सुरक्षा का अधिकार।
  • खरीदी गई वस्तु की गुणवत्ता, मात्रा, क्षमता, शुद्धता, स्तर और मूल्य, जैसा भी मामला हो, के बारे में जानकारी का अधिकार, ताकि उपभोक्ताओं को गलत व्यापार पद्धतियों से बचाया जा सके।
  • जहां तक संभव हो उचित मूल्यों पर विभिन्न प्रकार के सामान तथा सेवाओं तक पहुंच का आश्वासन।
  • उपभोक्ताओं के हितों पर विचार करने के लिए बनाए गए विभिन्न मंचों पर प्रतिनिधित्व का अधिकार।
  • अनुचित व्यापार पद्धतियों या उपभोक्ताओं के शोषण के विरुद्ध निपटान का अधिकार।
  • सूचना संपन्न उपभोक्ता बनने के लिए ज्ञान और कौशल प्राप्त करने का अधिकार।
  • अपने अधिकार के लिए आवाज़ उठाने का अधिकार।

इस लेख में आपने National Consumer day Quotes के साथ सभी जानकारी को पढ़ा, अगर आपको ये लेख पसंद आये तो इसे social media whatsapp , facebook पर जरुर शेयर करे.

Leave a Reply