AIIMS Full Form – एम्स के बारे में जानकारी

November 27, 2019 Education, General Knowledge, Study Materials
Share it :

AIIMS Full Form in Hindi With Information: आपने समाचार पत्रों अथवा टेलीविज़न इत्यादि के माध्यम से कभी न कभी AIIMS का नाम सुना होगा और शायद इस बारे में थोड़ी बहुत जानकारी भी रखते होंगे। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको AIIMS के बारे में जानकारी से अवगत कराएंगे। AIIMS Full Form, भारत में कितने एम्स है, कहाँ पर है? एम्स अस्पताल के कार्य क्या है ये सभी जानकारी आपको मिलेगी. आपको इतना तो पता ही होगा कि AIIMS चिकित्सा शिक्षा का केंद्र है एवं अस्पताल है।

भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू जी ने scientific culture से भारत देश को ओत प्रोत करने का सपना देखा था और स्वतंत्रता के बाद उन्होंने अपना सपना साकार करने के लिए plan किया। नेहरू जी का सपना था कि southeast asia में medical education and research की गति बनाये रखने center होना चाहिए। नेहरू जी के द्वारा इस कार्य को अंजाम देने के लिए उस समय की तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री राजकुमारी अमृता कौर जी का भरपूर सहयोग मिला।

1. AIIMS Full Form – एम्स का फुल फॉर्म क्या है?

AIIMS information List India Colleges hindi me jankari full form kya hota hai.

AIIMS Full Form : All India Institutes Of Medical Siences

AIIMS का पूरा नाम हिंदी में

AIIMS का full form अंग्रेजी में ‘All India Institutes Of Medical Siences’ होता है और हिंदी में एम्स का पूरा नाम ‘अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान’ है।

2. एम्स के बारे में जानकारी

आइए हम आपको AIIMS यानि ( AIIMS Full Form ) All India Institutes Of Medical Siences की जानकारी विस्तारपूर्वक समझते हैं।

AIIMS क्या है ?

AIIMS सार्वजनिक आयुर्विज्ञान महाविद्यालयों का समूह है और इसकी कल्पना नेहरू जी ने दक्षिण पूर्वी एशिया में चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान की गति बनाये रखने के लिए केंद्र स्थापना के उद्देश्य से किया था। आज एम्स ने बहुत ऊंचाइयों पर पहुंच चुका है और बहुत सी उपलब्धियां हासिल कर लिया है।

AIIMS की स्थापना कब और कैंसे हुई ?

सर जोसेफ भोर (Joseph Bhore) एक भारतीय लोकसेवक थे। उनकी अध्यक्षता में वर्ष 1946 में स्वास्थ्य सर्वेक्षण और विकास समिति के द्वारा एक national medical center की स्थापना के लिए सिफारिश की गई थी जो देश की बढ़ती स्वास्थ्य देखभाल गतिविधियों को संभालने के लिए उच्च योग्यता प्राप्त जनशक्ति की जरूरतें पूरी कर सकें।

जैसा कि हमने बताया कि जवाहर लाल नेहरू जी का ये एक सपना था साथ ही उसमें तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री अमृता कौर जी ने भी समर्थन किया। इसी के चलते जवाहर लाल नेहरू, अमृता कौर और जोसेफ भोर की समिति ने मिलकर एक प्रस्ताव तैयार किया। इस प्रस्ताव का न्यूजीलैंड सरकार ने भी समर्थन किया था।

कोलंबो योजना के तहत न्यूजीलैंड सरकार ने भारत सरकार को दान किया जिससे वर्ष 1952 में ऐम्स की नींव रखी गयी। आखिर में ऐम्स का सृजन वर्ष 1956 में किया गया और 1956 में ही दिल्ली में सबसे पहले ऐम्स संस्थान की स्थापना की गई।

Read Also : महिलाओ के लिए करियर के आप्शन

AIIMS की स्थापना क्यों हुई ?

AIIMS की स्थापना संसद के एक अधिनियम के माध्यम से एक स्वायत्त संस्थान के रूप में स्वास्थ्य देखभाल के सभी पक्षों में उत्कृष्टता को पोषण देने के केंद्र के रूप में कार्य करने हेतु किया गया था।

एम्स की स्थापना सभी branches में स्नातक (Undergraduate) और स्नातकोत्तर (Postgraduate) चिकित्सा शिक्षा में अध्यापन में विकास के लिए एक राष्ट्रीय संस्थान के रूप में की गयी थी जिससे भारत में चिकित्सा शिक्षा के उच्च मानक प्रदर्शित किए जा सकें और स्वास्थ्य गतिविधि की सभी महत्वपूर्ण शाखाओं में कार्मिकों के प्रशिक्षण हेतु उच्चतम स्तर की शैक्षिक सुविधाएं एक ही स्थान पर लाने और स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा में आत्मनिर्भरता पाई जा सके। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ पढ़े : AIIMS india website

AIIMS दिल्ली संस्थान में क्या क्या सुविधाएं हैं ?

एम्स के दिल्ली संस्थान में अध्यापन, अनुसंधान और रोगियों की देखरेख के लिए बहुत सी व्यवस्थाएं हैं। एम्स में स्नातक और स्नातकोत्तर दोनों ही स्तर में medical and para-medical courses में अध्यापन कराया जाता है। एम्स में 42 विषयों में अध्यापन और research कराये जाते हैं और यह छात्रों को अपनी ही डिग्री देता है। ऐम्स दिल्ली की faculty and reseachers के द्वारा एक वर्ष में 600 से ज्यादा अनुसंधान प्रकाशन (research publication) प्रस्तुत किये जाते हैं।

ऐम्स दिल्ली में एक नर्सिंग महाविद्यालय भी चलाया जाता है और यहां बी.एससी. नर्सिंग पोस्ट प्रमाण पत्र डिग्री के लिए भी प्रशिक्षण दिया जाता है।

ये भी पढ़े : UNESCO All Information in hindi

AIIMS के उद्देश्‍य

1. इसकी सभी शाखाओं में स्‍नातक और स्‍नातकोत्तर चिकित्‍सा शिक्षा में अध्‍ययन के एक पैटर्न का विकास करना ताकि सभी चिकित्‍सा महाविद्यालयों और भारत के अन्‍य संबद्ध संस्‍थानों में चिकित्‍सा शिक्षा के उच्‍च मानक प्रदर्शित किए जा सकें।

2. स्‍वास्‍थ्‍य गतिविधि की सभी महत्‍वपूर्ण शाखाओं में कार्मिकों के प्रशिक्षण के लिए उच्‍चतम स्‍तर की शैक्षिक सुविधाएं एक ही स्‍थान पर लाना।

3. चिकित्‍सा शिक्षा में स्‍नातकोत्तर स्‍तर पर आत्‍मनिर्भरता लाना।

AIIMS के कार्य

  • 1. चिकित्‍सा और संबंधित भौतिक जीवन विज्ञानों में स्‍नातक तथा स्‍नातकोत्तर अध्‍यापन
  • 2. नर्सिंग और दंत चिकित्‍सा शिक्षा
  • 3. शिक्षा में नवाचार
  • 4. देश के लिए चिकित्‍सा अध्‍यापकों को तैयार करना
  • 5. चिकित्‍सा और संबंधित सेवाओं में अनुसंधान
  • 6. स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल : निवारणात्‍मक, प्रवर्तनकारी और उपचारात्‍मक, प्राथमिक, द्वितीयक और तृतीयक
  • 7. समुदाय आधारित अध्‍यापन और अनुसंधान

3. भारत में एम्स हॉस्पिटल कहां कहां है?

ऐम्स की स्थापना के पश्चात सर्वप्रथम 1956 में दिल्ली में पहले ऐम्स संस्थान की स्थापना हुई। वर्ष 2012 में पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनोहन सिंह जी की सरकार द्वारा एक ही वर्ष में 6 एम्स भारत के अलग अलग प्रदेशों भोपाल, भुवनेश्वर, जोधपुर, पटना, रायपुर और ऋषिकेश में खोले गए थे।

4. Total aiims hospital in india list 2020

आइए हम आपको उन प्रमुख एम्स संस्थानों के स्थापना वर्ष और शहर प्रदर्शित करते हैं जहाँ हॉस्पिटल सुविधा उपलब्ध है। ( अन्य सभी एम्स की जानकारी इस लेख के अंत में दी गयी है. )

1) एम्स दिल्ली संस्थान की स्थापना वर्ष 1956 में दिल्ली प्रदेश के नई दिल्ली शहर में हुई।

2) ऐम्स भोपाल संस्थान की स्थापना वर्ष 2012 में मध्य प्रदेश के भोपाल शहर में हुई।

3) ऐम्स भुवनेश्वर संस्थान की स्थापना वर्ष 2012 में ओडिशा प्रदेश के भुवनेश्वर शहर में हुई।

4) ऐम्स जोधपुर संस्थान की स्थापना वर्ष 2012 में जोधपुर शहर में हुई।

5) एम्स पटना संस्थान की स्थापना वर्ष 2012 में बिहार प्रदेश के पटना शहर में हुई।

6) ऐम्स रायपुर संस्थान की स्थापना वर्ष 2012 में छत्तीसगढ़ प्रदेश के रायपुर शहर में हुई।

7) एम्स ऋषिकेश संस्थान की स्थापना वर्ष 2012 में उत्तराखंड प्रदेश के ऋषिकेश शहर में हुई।

महात्मा गाँधी का जीवन परिचय – कालक्रम

5. भारत में एम्स कितने हैं?

भारत में 7 AIIMS हॉस्पिटल हैं जो कि भोपाल, भुवनेश्वर, जोधपुर, पटना, रायपुर और ऋषिकेश में हैं । AIIMS संस्थानों की बात की जाए तो इनकी संख्या 2 और संस्थानों को मिलाकर ऐम्स नागपुर जो कि महाराष्ट्र प्रदेश के नागपुर शहर में स्थित है तथा ऐम्स गुंटूर जो कि आंध्रप्रदेश के गुंटूर शहर में स्थित है। इन दोनों जगहों पर हॉस्पिटल सुविधा शुरू नहीं हुई है यहाँ सिर्फ एम.एम.बी.एस प्रोग्राम के लिए एडमिशन लिए जाते हैं।

AIIMS की कोई निश्चित संख्या नहीं रहेगी क्योकि नए AIIMS बनते जा रहे है. लेकिन निचे दिया गया लिस्ट आपको इस समय के AIIMS की जानकारी देगा.

13 अगस्त 2018 में उत्तर प्रदेश के रायबरेली में भी ऐम्स की शुरुआत की गई है लेकिन यहाँ सिर्फ OPD कक्ष है।

यहाँ आपको AIIMS के सभी अस्पताल – colleges का लिस्ट दिया गया है.

List of AIIMS Colleges in India

S.NoNameLocation (State)Year of Establishment
1.AIIMS DelhiNew Delhi1956
2.AIIMS BhopalMadhya Pradesh2012
3.AIIMS BhubaneswarOdisha2012
4.AIIMS JodhpurRajasthan2012
5.AIIMS PatnaBihar2012
6.AIIMS RaipurChhatisgarh2012
7.AIIMS RishikeshUttarakhand2012
8.AIIMS RaebareliUttar Pradesh2012
9.AIIMS NagpurMaharashtra2018
10.AIIMS GunturAndhra Pradesh2018
11AIIMS GorakhpurUttar Pradesh2019
12AIIMS BibinagarTelangana2019
13AIIMS BathindaBathinda2019
14AIIMS KalyaniWest Bengal2019
15AIIMS DeogarhJharkhand2019

12th Science After Best career Option

Under Development AIIMS in India

कुछ राज्यों में नए AIIMS की स्थापना का आदेश दिया गया है और उस पर काम चल रहा है. इसका लिस्ट निचे दिया गये है. कुछ समय बाद ये AIIMS भी शुरू हो जायेंगे.

S.NoNameLocation (State)
1AIIMS MaduraiTamil Nadu
2AIIMS RajkotGujarat
3AIIMS Vijay PurJ&K (Jammu Region)
4AIIMS AwantiporaJ&K (Kashmir Region)
5AIIMS BilaspurAIIMS Himachal Pradesh
6AIIMS ChandsariAssam
7AIIMS RewariHaryana
8AIIMS DarbhangaBihar
9AIIMS BhongirTelangana

इस लेख में आपको AIIMS Full Form की जानकारी और भारत में स्थित एम्स अस्पताल – college की विस्तृत जानकारी यहाँ दी गयी है. आपको ये लेख कैसा लगा जरुर बताये .

Leave a Reply